गुरु गोचर फल 2019

गुरु गोचर फल 2019गुरु गोचर फल 2019 .  गुरु / बृहस्पति का गोचर ज्योतिष शास्त्र में शुभ फल के लिए लोकश्रुत है। गुरु ज्ञान, धन संतान मान-सम्मान विकास, कर्म, विवाह  इत्यादि  का कारक ग्रह है।  बृहस्पति देव गुरु के रूप में प्रतिष्ठित है।  जिस जातक के जन्मकुंडली में गुरु ग्रह का विशेष प्रभाव होता है वैसा जातक तन-मन और धन से धार्मिक एवं आध्यात्मिक कार्यों में अभिरुचि रखता है। गुरु धनु व मीन राशि के स्वामी ग्रह हैं। ये कर्क राशि में उच्च के तथा मकर राशि में नीच के होते है। सूर्य, चंद्रमा व मंगल इनके मित्र ग्रह हैं। शुक्र व बुध के साथ इनकी शत्रुता होती है। राहु-केतु व शनि के साथ इनका तटस्थ संबंध है। गुरु हमें संकट की घडी में धैर्य और विवेकशील बनाता है।

गुरु ग्रह जातक को करियर में उन्नति, स्वास्थ्य लाभ, मजबूत आर्थिक स्थिति, विवाह एवं संतानोत्पत्ति जैसे शुभ फल में महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाता है। यदि जन्म कुंडली में गुरु/बृहस्पति ग्रह केंद्र, त्रिकोण या उच्च का है या बलवान है तो अन्य ग्रहों की स्थिति ठीक नहीं होने पर भी जातक को गंभीर परेशानियों से बचाता है।

गुरु / बृहस्पति ग्रह के राशि परिवर्तन से जातक के जीवन पथ में अनेक परिवर्तन होता है ऐसा माना जाता है।  वर्ष 2018 में गुरु 11 अक्टूबर को रात्रि 8:40 मिनट से तुला राशि से वृश्चिक राशि में प्रवेश करेंगे तथा इस राशि में 30 मार्च 2019, शनिवार रात्रि 3:11 बजे तक इसी राशि में भ्रमण करेंगे। इसके बाद गुरु धनु राशि में प्रवेश करेगा और 23 अप्रैल 2019 तक धनु राशि में भ्रमण करेंगे।  गुरु धनु राशि में 9 अप्रैल से वक्री हो जाएंगे और 24 अप्रैल को वक्री अवस्था में ही वृश्चिक राशि में प्रवेश करेंगे।

आइये जानते है कि गुरु का तुला राशि से वृश्चिक में जाने से आपके जीवन के विभिन्न क्षेत्रों यथा – भाई-बंधू, धन-दौलत, वाणी, माता-पिता, परिवार, वैवाहिक जीवन, व्यवसाय, शिक्षा, भाग्य, प्रेम, केश-मुक़दमा, यात्रा, विदेश भ्रमण,खर्च  इत्यादि पर क्या क्या प्रभाव पड़ेगा।

वृश्चिक राशि में जाने पर गुरु सबसे पहले अपने ही नक्षत्र  विशाखा के चतुर्थ चरण में भ्रमण करेंगे उसके बाद शनि के अनुराधा नक्षत्र तथा बुध के ज्येष्ठा नक्षत्र में भ्रमण करेंगे। नवांश राशि में गुरु कर्क राशि से लेकर मीन राशि तक क्रमशः भ्रमण करेंगे। गुरु ज्ञान, धन, धर्म, न्याय, संतान  तथा शुभ फल का कारक ग्रह होने के कारण शुभ फल प्रदान करते है। ब्रह्मांड में उपस्थित सभी ग्रहो में गुरु ग्रह को सबसे शुभ ग्रह माना जाता है। वृश्चिक राशि में गुरु अपने मित्र राशि में होगा अतः पूर्णतः शुभत्व प्रदान करने में समर्थ होगा।

प्रस्तुत लेख में गुरु का वृश्चिक राशि में गोचर का फल चंद्र राशि को आधार बनाकर किया गया है। आप से प्रार्थना है की गोचर फल लग्न तथा चंद्र लग्न दोनों के आधार पर देखे। जन्म कुंडली में चन्द्रमा जिस राशि में स्थित होता है उसे ही राशि या चन्द्र राशि कहा जाता है। आइये जानते है ! गुरु का गोचर वृश्चिक राशि में होने से राशियों पर क्या-क्या प्रभाव पड़ेगा।

गुरु गोचर फल 2019 : मेष राशि 

जन्मकुंडली में यदि आपकी राशि मेष है या लग्न मेष है तो 11 अक्टूबर 2018 से गुरु आपके भाग्य तथा व्यय भाव का स्वामी होकर अष्टम भाव में गोचर कर रहा है अत: आपके भाग्य वृद्धि में रूकावट आएगी।  किसी भी कार्य को यह कहकर न छोड़े की यदि भाग्य होगा तो हो जाएगा यदि ऐसा करेंगे तो असफलता हाथ लगेगी अतः सम्पूर्ण वर्ष कर्मयोगी बने स्वयं के कर्मो से भाग्य का निर्माण करे। खुदी को कर इतना बुलंद की खुदा तुझसे पूछे बता तेरी रजा क्या है।

गुरु गोचर से धन हानि भी हो सकती है या लम्बी अवधि के लिए निवेश कर सकते है। व्यापार-व्यवसाय और निवेश संबंधी मामलों में नुकसान हो सकता है अतः आर्थिक मामलों में विशेष सावधानी बरतें। जल्दीबाजी में कोई फैसला न ले। धार्मिक पुस्तक पढ़ने तथा कार्यो में रूचि बढ़ेगी। तंत्र-मंत्र में विश्वास बढ़ेगा। जमीन-जयदाद की खरीद बिक्री हो सकती है। पिताजी से मनमुटाव हो सकता है। पत्नी से धन लाभ हो सकता है। पत्नी के नाम पर लोन ले सकते हैं।

गुरु गोचर फल 2019 : वृष राशि 

11 अक्टूबर 2018 से गुरु का गोचर आपके सप्तम भाव में होगा। गुरु लाभ और मृत्यु भाव का स्वामी होकर इस स्थान से लाभ, लग्न तथा भ्राता भाव को देखेगा अतः यदि शादी-शुदा है तो पत्नी से आपके भाग्य में वृद्धि होगी साथ ही अष्टमेश होने के कारण दाम्पत्य जीवन में कलह तथा अविश्वास का समावेश होगा जिसके परिणामस्वरूप विवाह विच्छेद तक की स्थिति उतपन्न हो सकती है अतः कोई भी कार्य पत्नी को विश्वास में लेकर करे। अपने आप में  संयम रखे तथा जीवनसाथी की भावनाओं का ख्याल रखे, आपको अपने कार्यो में अवश्य ही सफलता  मिलेगी।

यदि साझेदारी में कोई बिजनेस चल रहा है या करने के लिए सोच रहे हैं तो यह समय अनुकूल है थोड़ी देर से ही सही सफलता जरूर मिलेगी।  बिजनेस पार्टनर या जीवनसाथी की मदद से लाभ का योग बन रहा है।  गुरु के गोचर के समय व्यवसाय,नौकरी तथा धन  से जुड़े मामलों में सोच-समझकर फैसला लेने में ही बुद्धिमानी होगी।

गुरु का गोचर 2019 : मिथुन राशि 

मिथुन राशि तथा मिथुन लग्न वालो के लिए गुरु का गोचर ( Jupiter Transit 2018 ) छठे / षष्ठ भाव में हो रहा है। गुरु सप्तम तहत दशम कर्म भाव का स्वामी होकर आपके छठे भाव में गोचर करेगा।  सप्तमेश होने के कारण पत्नी से झगड़ा या पत्नी के स्वास्थ्य के ऊपर खर्च करना पड़ेगा।

यदि पार्टनरशिप में कोई कागुरु गोचर फल 2019र्य कर रहे है तो सावधान रहे पैसे को लेकर मनमुटाव हो सकता है।   इस समय शत्रु और विरोधी आपको परेशान कर सकते है अतः सतर्क रहें संयम के साथ काम लें और हर मामले को आपसी बातचीत से सुलझाने की कोशिश करें। षष्ठम भाव में गुरु का लिवर की बीमारी से सकता है अतः स्वास्थ्य को लेकर लापरवाही नहीं बरतें।

 गुरु के इस भाव में बैठने से आपको कठिन मेहनत से सफलता मिलेगी। नौकरी (Service) की प्रतीक्षा कर है तो नौकरी (Service) मिलने की पूरी संभावना है। पिताजी को प्रोन्नति होगी तथा नया प्रॉपर्टी भी खरीदेंगे।

गुरु गोचर 2019 :  कर्क राशि 

कर्क राशि तथा लग्न वाले जातक की कुंडली में गुरु का गोचर( Jupiter Transit 2018) पांचवें भाव ( Fifth House ) में हो रहा है। पंचम भाव धन, लक्ष्मी, संतान, प्यार, बुद्धि, शेयर मार्किट, उत्पादन इत्यादि का है अतः आपको इन्ही विषयों से सम्बंधित फल की प्राप्ति होगी। यदि आप शेयर मार्केट में इन्वेस्टमेंट करते है निवेश सावधानी पूर्वक सोच-समझकर ही करे।

गुरु आपके षष्ठम व नवम भाव के स्वामी होकर पंचम भाव में गोचर कर रहे हैं इसके परिणामस्वरुप आपको संतान सुख की प्राप्ति हो सकती है। संतान पक्ष से भाग्यवृद्धि का भी योग बन रहा है। बच्चे का जन्म होने से परिवार में खुशी का माहौल बनेगा । प्यार में ब्रेक या मनमुटाव हो सकता है लड़ाई झगड़ा वा केश मुकदमा भी सकता है अतः संभलकर तथा  सोच समझकर कोई फैसला करे।

भाग्येश के पंचम भाव में होने से नौकरी में प्रोन्नति ( Promotion in Job) एवं अधिकारियो का सहयोग मिलेगा। यदि राजनीति से सम्बन्ध रखते है तो मनोनुकूल परिणाम मिलने  की संभावना है। केश-मुकदमा चल रहा है तो उसका लाभ मिल सकता है।

गुरु गोचर फल 2019 : सिंह राशि 

सिंह राशि वाले व्यक्ति के लिए गुरु आपकी राशि से पंचम और अष्टम भाव का स्वामी होकर चतुर्थ भाव में गोचर कर रहा है अतः इस कारण यदि आप नया घर (New house) लेना चाह रहे है तो आपके लिए यह बहुत अच्छा समय है। यदि कोई पहले से प्रॉपर्टी है तो उसे बेच सकते है तथा उसका पैसा नए प्रॉपर्टी में लग सकता है।  नौकरी तथा कोई प्रतियोगिता परीक्षा के लिए अनुकूल समय है। इस समय आप कोई वाहन भी खरीदेंगे।

चतुर्थ भाव बंधू-भंधव माता वाहन इत्यादि का अतः अष्टमेश का इस भाव में गोचर होने से माता को कष्ट हो सकता है। वाहन चलाते समय सावधान रहे कोई दुर्घटना घट सकती है। मित्र और रिश्तेदारों के साथ मनमुटाव हो सकता हैं अतः अपने व्यवहार में कटुता न आने से। काम में देर होने से या बंधू  बांधव से मतभेद होने से मानसिक तनाव हो सकता है इसके परिणाम स्वरूप क्रोध का संचार होगा तत्पश्चात बुद्धि का नाश होगा। स्वयं के स्वास्थ्य के प्रति सावधनी बरते।

गुरु गोचर फल 2019 :  कन्या राशि 

कन्या राशि वाले व्यक्ति के लिए गुरु आपकी राशि से चतुर्थ और सप्तम भाव का स्वामी होकर तृतीय  भाव में गोचर कर रहा है इस समय आपकी भागदौड़ बढ़ जाएगी। व्यवसाय को लेकर बार-बार यात्रा करनी पड़ेगी जिसके कारण परिवारिक माहौल में उदासीनता आ सकती है।  इस समय आपको अपने व्यवसाय से लाभ तथा वयवसाय को विस्तार देने के कड़ी मेहनत करनी पड़ेगी क्योकि ईमानदारी और परिश्रम आपको उच्चाइयों पर ले जा सकता है। अपने कार्य में लापरवाही न बरते यदि ऐसा सकते है तो आपका प्रमोशन रुक सकता है अतः अपने कार्य पर विशेष ध्यान दें।  कार्यस्थल पर व्यर्थ की बातें करने से बचें।

अपनी सेहत का विशेष ख्याल रखे।  स्वास्थ्य सम्बन्धी परेशानी आ सकती है। घर से दूर जाने का योग बन रहा है। आप बुद्धि चातुर्य और परिश्रम से अपने भाग्य का निर्माण करने में सफलता प्राप्त करेगे । पैतृक सम्पति को लेकर भाइयो में मनमुटाव हो सकता है। अतः इस समस्या का समाधान धैर्य तथा विवेक पूर्वक करे तो परिणाम अनुकूल रहेगा।

गुरु गोचर फल 2019 :  तुला राशि 

यदि आप तुला राशि का जातक है तो इस समय गुरु आपकी राशि से तृतीय और षष्ठ भाव का स्वामी होकर दूसरे अर्थत धन भाव में गोचर कर रहा है अतः धन प्राप्त करने के लिए आपको अथक परिश्रम की जरुरत है।

धन भाव में गुरु का होना शुभ संकेत दे रहा है। इस दौरान आप ब्याज के रूप में पैसों का संचय कर सकेंगे।  अपने व्यवसाय को विस्तार देने के लिए लोन भी ले सकते है या विरासत में प्राप्त धन का उपयोग कर सकते है। इस समय आपका रुका हुआ तथा धन वापस मिलने का योग बन रहा है। यदि आप कोई जीवन बीमा करा रखे है तो इन्सुरेंस की परिपक्ता राशि मिल सकती है। इस समय आप जमीन-जायदाद की खरीद बिक्री कर सकते है।

कोई भी  निवेश सोच समझकर करे जल्दबाजी में फैसला न ले।  गुरु के गोचर के प्रभाव से पारिवारिक जीवन में तनाव हो सकता है वाणी दोष के कारण आपस में मनमुटाव हो सकता है।  इस समय लोग आपके कार्य और व्यक्तित्व की प्रशंसा करेंगे। गुरु के प्रभाव से व्यवसायिक जीवन में प्रगति का दौर शुरू होगा।  कार्यस्थल पर आपको अपनी मेहनत और प्रयासों का सुपरिणाम मिलेगा। यदि नौकरी कर रहे है तो आपको प्रमोशन व सैलरी में इंक्रीमेंट मिल सकता है।

गुरु गोचर फल 2019 :  वृश्चिक राशि

यदि आप वृश्चिक राशि या लग्न के जातक है तो इस समय गुरु आपकी राशि से द्वितीय और पंचम  भाव का स्वामी होकर लग्न भाव में संचार कर रहा है अतः इस समय आर्थिक वृद्धि का प्रबल योग बन रहा है आपके सभी रुके हुए कार्य सम्पन्न होंगे।  यदि आप अविवाहित है और विवाह करना चाह रहे है तो आप अपना प्रयास तेज कर दीजिये निश्चित ही आपको पत्नी सुख का आनंद मिलेगा। जानें ! आपकी शादी कब होने वाली है ?

यदि आप संतान सुख से वंचित है और संतान सुख की इच्छा रखते है तो अवश्य ही आपके घर में नन्हा बच्चा आएगा। यदि जन्मकुंडली संतान सुख की कमी है तो संतान गोपाल स्तोत्र का पाठ शुरू कर दे निःसंदेह संतान सुख मिलेगा।

यदि आप शेयर में इन्वेस्ट करते है तो यह अच्छा अवसर है फिर भी सोच समझकर ही निवेश करे जल्दबाजी में कोई निर्णय न ले तो अच्छा रहेगा।  काम के सिलसिले में आपको अपने घर से दूर जाना पड़ सकता है। गुरु गोचर के दौरान शुभ कार्यो में अधिक खर्च हो सकता है अतः अनियोजित खर्च से बचे। सामान्यतः आपका स्वास्थ्य अनुकूल रहेगा फिर भी अपने खान-पान पर विशेष ध्यान दे तो ठीक रहेगा।

गुरु गोचर फल 2019 : धनु राशि 

यदि आप धनु राशि या लग्न के जातक है तो इस समय गुरु लग्न भाव और चतुर्थ भाव का स्वामी होकर बारहवे भाव में संचार कर रहा है अतः इस समय आर्थिक नुक़सान का प्रबल योग बन रहा है।  यदि विदेश जाने की इच्छा रखते है तो आपकी इच्छा पूरी हो सकती है अतः अपना प्रयास संदर्भ में तेज कर दे। अभी आप जिस स्थान पर रह रहे है उस स्थान से दूर जा सकते है।  घर में परिवर्तन हो सकता है। यदि किराये के मकान में रह रहे है तो मकान चेंज कर सकते है या अपना नया मकान में शिफ्ट हो सकते है।

आपकी अपनी ही गलती से आपका बहुत बड़ा नुकसान हो सकता है अतः कोई भी निर्णय सोच समझकर ले तो अच्छा रहेगा। इस समय आप अपने स्वास्थ्य को लेकर भी परेशान रह सकते है। गुरु गोचर के कारण प्रॉपर्टी को लेकर परिवार में विवाद हो सकता है अत: जमीन या मकान की खरीदी-बिक्री और मालिकाना हक से जुड़े मामलों में सावधानी रखें।

मानसिक तनाव ( Depression ) बढ़ने से आप परेशान रहेंगे अतः बिना विशेष कारण के तनाव लेने से बचें। यदि कोई तनावपूर्ण परिस्थिति उत्पन्न हो तो अपने का  विवेक परिचय दे घबराये नहीं धैर्य रखे । पैसों के लेन-देन में सतर्क रहें।

गुरु गोचर फल 2019 :  मकर राशि

यदि आप मकर राशि या लग्न के जातक है तो इस समय गुरु द्वादश और तृतीय भाव का स्वामी होकर लाभ भाव में भ्रमण कर रहे है अतः इस समय घर में किसी शुभ कार्य में खर्च का योग बन रहा है। लाभ स्थान में गुरु का संचार करना अपने आप में शुभता देने वाला है।

गुरु गोचर के दौरान यदि आप कोई नया व्यवसाय शुरू करना चाहते है तो कर सकते हैं। यदि आप पहले से कोई व्यवसाय कर रहे है तो इस समय आप अपने बिजनेस का विस्तार कर सकते है और इसमें सफलता मिलने के प्रबल चांस है अर्थात सर्विस /नौकरी पेशा और व्यावसायिक जातकों के लिए गुरु का गोचर शुभ फल प्रदान करेगा। हालांकि गुरु आपकी कुंडली में अशुभ भाव का स्वामी होकर लाभ स्थान में भ्रमण कर रहा है तो हमेशा शुभ फल मिलेगा ऐसी आशा करना मूर्खता होगा। व्ययेश होकर लाभ स्थान में है अतः लाभ में कमी करेगा परन्तु तृतीयेश होकर लाभ स्थान में है अतः कार्यो का विस्तार होगा परन्तु कैसे आपके बाहुबल अर्थात परिश्रम से।

गुरु गोचर 2018 में घर-परिवार में कोई नया मेहमान आ सकता है यानि आपको संतान सुख की प्राप्ति हो सकती है। यही नहीं यदि शादी की उम्र हो गई है तो शादी भी होगी और साल भर के अंदर में ही संतान सुख भी मिलेगा। प्यार में तकरार संभव है। परन्तु यदि कुंडली में गुरु शुभ है तो प्यार शादी का रूप ले सकता है। पिता को प्रॉपर्टी का लाभ हो सकता है। पिता कोई नया प्रॉपर्टी खरीद सकते है। Love Marriage will successful or not ?

गुरु गोचर फल 2019 :  कुम्भ राशि

यदि आप कुम्भ राशि या लग्न के जातक है तो इस समय गुरु दूसरे और एकादश भाव का स्वामी होकर कर्म स्थान में भ्रमण कर रहे है अतः इस समय आपके कार्यो में आ रही रुकावट शीघ्र ही दूर हो जाएगी। आपके व्यापार और व्यवसाय में विस्तार होगा। व्यवसाय और नौकरी को लेकर आने वाली परेशान अब जल्दी ही समाप्त हो जायेगी। घर में कोई नए सदस्य जुड़ सकते है।

यदि घर खरीदने की इच्छा रखते है तो मकान खरीदने के लिए कमर कस ले लोन लेकर मकान खरीदने का योग बन रहा है। नई गाडी भी खरीद सकेंगे। कार्यस्थल पर सब का सहयोग मिलेगा परन्तु इस समय आप कुछ ज्यादा ही फिलोस्पी देने लगेंगे जिसके कारण अधिकारी और सबोर्डिनेट के साथ अहम् का टकराव हो सकता है अतः सावधान रहे तथा विवेक और बुद्धि का पूर्ण परिचय दे।

अपने स्वास्थ्य को लेकर कोई लापरवाही नही बरतें। कमजोर सेहत के कारण किसी कार्य में मन नही लगेगा जिसके परिणामस्वरूप कार्य क्षमता में कमी आ सकती है अतः ऐसा नही होने दे। मेहनत और विशवास के बल पर आप इस समय अचूक धन का अर्जन कर सकते हैं। पिताजी को ऋण लेना पर सकता है। उनका स्वास्थ्य भी ख़राब होने का योग बन रहा है। दाम्पत्य जीवन सुखमय बना रहेगा। जानें ! आपकी कुंडली में धन योग है या नहीं ?

गुरु गोचर फल 2019 :  मीन राशि  

यदि आप मीन  राशि या लग्न के जातक है तो इस समय गुरु लग्न और कर्म भाव का स्वामी होकर भाग्य स्थान में गोचर कर रहे है अतः इस समय स्वयं के कर्म से भाग्य निर्माण में सक्षम होंगे। भाग्य वृद्धि के लिए यह अनुकूल समय है। इस समय आप नए निवेश के माध्यम से अपने व्यवसाय में वृद्धि करने में सक्षम होंगे। आपके कार्यो में आ रही रुकावट शीघ्र ही दूर हो जाएगी। आपके व्यापार और व्यवसाय में विस्तार होगा। कार्य क्षेत्र में तरक्की होगी और नए अवसर मिलेंगे। यदि नौकरी कर रहे है तो प्रमोशन और सैलरी में बढ़ोत्तरी मिल सकती है।

गुरु गोचर के दौरान धार्मिक और आध्यात्मिक कार्यों में आपकी रुचि बढ़ेगी। आप किसी धार्मिक यात्रा पर जा सकते हैं। पैतृक धन का लाभ मिल आपको मिल सकता है। उनसे बेहतर सम्बन्ध बनाये रखे उनके आशीर्वाद से आर्थिक समृद्धि मिलेगी। इस समय आप परिवार तथा समाज में मान-सम्मान और यश प्राप्त कर सकेंगे।

Tagged with 
About Dr. Deepak Sharma
Dr. Deepak Sharma is an expert in Vedic Astrology and Vastu with over 21 years experience in Horary or Prashn chart, Career, Business, Marriage, Compatibility, Relationship and so many other problems in life path. Remedies suggested by him like Mantra, Puja, donation, Rudraksh Therapy, Gemstone etc. For an appointment, come through Astro Services email - drdk108@gmail.com. Phone No 9868549875, 8010205995 ( Please don`t call me for free counsultation )

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *