राहु गोचर 2017 का कर्क राशि पर प्रभाव | Rahu Transit Effects on Cancer

राहु गोचर 2017 का कर्क राशि पर प्रभाव | Rahu Transit Effects on Cancer . 9 सितम्बर 2017 को राहु सिंह से कर्क राशि ( Cancer Sign)  में प्रवेश करेगा और इसी राशि में वे 24 मार्च 2019 तक भ्रमण करते रहेगा । गोचर के दौरान राहु कर्क राशि में 18 महीने 15 दिन तक भ्रमण करेगा ।

 

आइये जानते है कि राहु का कर्क राशि में आने से कर्क राशि वाले जातक के जीवन के विभिन्न क्षेत्रों यथा भाई-बंधू, व्यवसाय,शिक्षा,धन, माता-पिता, परिवार, वैवाहिक जीवन इत्यादि पर क्या-क्या प्रभाव पड़ेगा।

राहु गोचर 2017 का कर्क राशि पर प्रभाव | Rahu Transit Effects on Cancer

राहु गोचर 2017 का कर्क राशि पर प्रभाव 

9 सितंबर 2017 से राहु का प्रवेश आपकी राशि कर्क ( Cancer Sign)  में होगा जिसके कारण व्यक्तिगत जीवन में कठिन परिस्थितियों का भलीभांति सामना करना पड़ेगा। इस समय आपके स्वभाव और व्यवहार में परिवर्तन आएगा आपमें गुस्सा तथा चिड़चिड़ापन बढ़ेगा।

यदि आप पार्टनरशिप में कोई कार्य कर रहे है तो पैसो को लेकर मनमुटाव हो सकता है। इस मनमुटाव को अपने बुद्धि बल से जल्द ही समाधान कर लेने में भलाई है अन्यथा पार्टनरशिप टूट भी सकता है। वैसे धैर्य रखे आपके पार्टनर भाव में गुरु का भी गोचर होने वाला है और गुरु चेला मिलकर किसी न किसी का चुना तो लगाएंगे ही।
आपके दाम्पत्य रिश्तों में तनाव ( Tension possible in Marriage Life )  संभव है। यह स्थिति तब ज्यादा भयावह होगी जब आपका कोई प्रेम प्रसंग ( Love affair )  चल रहा हो। विचारों में टकराव होने की वजह से भी घरेलू जीवन में मतभेद होंगे। अतः धैर्य के साथ काम लें। धीरे धीरे सब कुछ सामान्य हो जाएगा। अपने क्रोध पर काबू रखे अन्यथा बाटे दूर तक जा सकती है।

यदि आप अविवाहित है तो शादी होने के चांस बढ़ जाएंगे। आपके साथ धोखा भी हो सकता है। प्रेम बंधन का सुख मिल सकता है तथा प्रेम विवाह ( Love Marriage ) की भी हो सकता है। प्रेमी प्रेमिका ने जो कसम खायी है उसे नहीं निभाने के कारण मनमुटाव हो सकता है।

भौतिक सुख के प्रति आपका झुकाव बढ़ेगा। व्यर्थ में आप अकेले या दोस्तों के साथ घूमते रहेंगे। लंबी दूरी की यात्रा हो सकती है चाहे वह विदेश ( Abroad Travel can be possible)  ही क्यों न हो अर्थात विदेश यात्रा के लिए सोच रहे थे तो आपके सपने पूरे होंगे।

इस समय आपकी महत्वकांक्षा में बढ़ोतरी होगी। आप कन्फूजन वाली जीवन व्यतीत करने के लिए बाध्य होंगे। मानसिक स्थति ( Mental distress ) को काबू में रखे किसी भी कार्य के लिए जल्दबाजी न करे। भावना में आकर तेज वाहन न चलाये तथा चलाते समय ओवरटेक करने में सावधानी बरते नहीं तो आर्थिक दंड देना पर सकता है। कोई भी निर्णय सोच समझकर ही ले वरना नुकसान हो सकता है।

अपने स्वास्थ्य को लेकर आप परेशान हो सकते है बीमारी होगी परन्तु बिमारी का ठीक से पता भी नहीं चलेगा जिसके कारण आप और परेशान होंगे। यदि जन्मकुंडली में अशुभ ग्रह एक-दूसरे के साथ बैठकर संबंध बना रहे हैं तो उसका क्या कहना! आप मानसिक रूप से परेशान रह सकते है उसका मुख्य कारण होगा सोचे हुए कार्य का न होना।

 
Tagged with 

  • Shani ka paya – शनि का पाया जानने की विधि और फल
  • Shani Jayanti 2018 | शनि जयंती 2018 | पूजा विधि तथा लाभ
  • Shani Dev ke 108 Name in Hindi and English
  •    

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *