राहु गोचर 2018 का तुला राशि पर प्रभाव | Rahu Transit Effects on Libra

राहु गोचर 2017 का तुला राशि पर प्रभाव | Rahu Transit Effects on Libraराहु गोचर 2018 का तुला राशि पर प्रभाव | Rahu Transit Effects on Libra . राहु ग्रह 9 सितम्बर 2017 को सिंह से कर्क राशि में प्रवेश किया है तथा कर्क राशि में 24 मार्च 2019 तक संचरण करते रहेगा । गोचर के दौरान राहु कर्क राशि में 18 महीने 15 दिन तक भ्रमण करेगा ।

 

आइये जानते है कि राहु का कर्क राशि में आने से तुला राशि वाले व्यक्ति के जीवन के विभिन्न क्षेत्रों यथा व्यवसाय, धन, माता-पिता, शिक्षा, परिवार, भाई-बंधू, दाम्पत्य जीवन इत्यादि पर क्या-क्या प्रभाव पड़ेगा।

राहु गोचर 2017 का तुला राशि पर प्रभाव | Rahu Transit Effects on Libra

राहु गोचर 2017 का तुला राशि पर प्रभाव | Transist in Cancer 

9 सितम्बर 2017 राहु सिंह राशि से कर्क राशि में प्रवेश किया है। इस समय गोचर में राहु आपके दशम अर्थात कर्म भाव में स्थित होगा। चूंकि यह भाव आपके कर्म और प्रोफेशन का भाव है अतः राहु के गोचर से आपको अपने कैरियर के प्रति सावधान होने की जरुरत है। अपने कार्य के प्रति लापरवाही न बरतें बल्कि पूर्ण समर्पण का भाव रखते हुए कार्य करे अन्यथा इसका खामियाजा आपको भुगतना होगा।

मेरे अनुसार यदि आप उन्नति की उच्च शिखर पर पहुँचना चाहते हैं तो भविष्य की विशाल योजना न बनाकर, वर्तमान की योजनाओं पर ध्यान केंद्रित करना चाहिए। राहु के इस स्थान पर गोचर होने से कार्य के प्रति स्थिरता का अभाव रहेगा जो आपके उन्नति में बाधक होगा। इस समय आप अनेक प्रकार के कार्य करने के लिए तैयार रहेंगे परन्तु कोई भी कार्य पूर्ण होने में सन्देह रहेगा।

इस साल काम में व्यस्तता के कारण पारिवारिक जीवन में तनाव हो सकता है। इसलिए कामकाज और पारिवारिक जीवन में अवश्य ही संतुलन बनाए रखने प्रयास करें । अपने परिवार की जिम्मेदारी को महशुस करना बहुत जरुरी है अतः पहले जिम्मेदारी को समझे फिर महशुस करे तत्पश्चात कोई फैसला लेना ही उचित रहेगा।

जब तक राहु इस भाव मे है इस दौरान प्रोपर्टी खरीदने या मकान के रिनोवेशन के लिए आप को ऋण लेना पर सकता है। इस समय आप कोई न कोई प्रोपर्टी खरीदने के लिए इधर उधर भटकते रहेंगे अंततः आपको सफलता मिलेगी ही।

यदि आपकी जन्मकुंडली में राहु ग्रह का सम्बंध किसी भी तरह से मंगल से हो रहा है तो आप किसी गलत तरीके से भी पैसा कमाने की कोशिश करेंगे। अर्थात आप येन-केन प्रकारेण अपने नियोजित कार्य को अंजाम देने में सफल होंगे। कार्य को लेकर विदेश यात्रा हो सकती है। ( Abroad  Travel is possible )

छात्रों के लिए यह समय अनुकूल है उसे अपने मिशन में सफलता की प्राप्ति होगी। हां ख्याली पुलाव पकाने से दूर रहे तो अच्छा रहेगा। आपको अपने मेहनत के अनुरूप सफलता मिलेगी। आप किसी गलत तरीके से परीक्षा में सफलता प्राप्त करने की कोशिश करेंगे जो उचित नहीं है ऐसा करने से आपको असफलता ही हाथ लगेगी।

 
Tagged with 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *