Muhurt for Service | Job Joining | नौकरी वा पदग्रहण मुहूर्त विचार

Muhurt for Service | Job Joining | नौकरी वा पदग्रहण मुहूर्त विचार . मुहूर्त का विचार प्राचीन काल से ही भिन्न-भिन्न कामों के लिए होता आया है। जन्म से मृत्यु पर्यन्त मुहूर्त का विशेष महत्त्व है। मुहूर्त अर्थात किसी विषय पर बार बार ( मुहू-मुहू ) विचार करने के बाद जो तिथि और समय निकले वही मुहूर्त है। पूर्णतः समय की शुद्धि ही तो “मुहूर्त” है। सामान्यतः यह देखा गया है कि जो काम सही समय का ध्यान रखकर किया जाता है वह विना व्यवधान के सफल हो जाता है परन्तु विना तिथि और समय का विचार किये किया गया कार्य या तो होता ही नहीं और यदि होता है तो बहुत परेशानी के साथ।

 

muhurt-for-service-job-joining-%e0%a4%a8%e0%a5%8c%e0%a4%95%e0%a4%b0%e0%a5%80-%e0%a4%b5%e0%a4%be-%e0%a4%aa%e0%a4%a6%e0%a4%97%e0%a5%8d%e0%a4%b0%e0%a4%b9%e0%a4%a3-%e0%a4%ae%e0%a5%81%e0%a4%b9%e0%a5%82

अतः कोई भी महत्त्वपूर्ण काम यथा मुंडन, विवाह, व्यापार प्रारम्भ, वाहन खरीदना, यात्रा, नौकरी  इत्यादि आरम्भ करने से पहले मुहूर्त का विचार अवश्य करना चाहिए। कई बार मुहूर्त को लोग बोझिल समझ कर छोड़ देते है और उसका परिणाम अशुभ होता है अतः ऐसा न करें।

मुहूर्त का महत्त्व और लाभ | Importance and benefit of  Muhurt 

मुझे याद है एकबार मेरे मित्र जो दिल्ली में रहते है की पत्नी का चयन केंद्रीय विद्यालय में अध्यापिका के रूप हुआ घर के सभी लोग खुश थे परन्तु जब जोइनिंग लेटर आया तब पता चला कि पोस्टिंग हैदराबाद में हुई है यह जानकार सभी लोग परेशान हो गए परन्तु नौकरी और उसमे भी सरकारी कौन छोड़ता है अंततः जाने का फैसला किया गया। पति पत्नी नौकरी ज्वाइन करने के लिए  हैदराबाद पहुच गए अचानक मेरे पास फ़ोन आया की बताये किस समय ज्वाइन करे और आज ही ऐसी परिस्थिति में मेरे पास तिथि नक्षत्र इत्यादि का कोई विकल्प भी नहीं था मैंने सोचा चलिए कोई बात नहीं आज का शुभ समय तो देख ही सकते हैं।

पुनः मेरे दिमाग में एक बात याद आ गई मैंने पूछा क्या आप उसी स्थान पर रहना पसंद करंगे या ट्रांसफर उन्होंने तुरंत बोला मुहूर्त में ऐसा भी होता है क्या हमने बोला हां मुहूर्त में हम ऐसे मुहूर्त का चयन करते है की जल्दी ट्रांसफर हो जाए ।  तब मैंने चर लगन तथा स्थिर नवांश का चयन किया और  मैंने उन्हें उसी समय पर ज्वाइन करने के लिए बोला उन्होंने ऐसा ही किया। केंदिरी विधयालय में ट्रांसफर जोइनिंग के तीन साल के बाद ही होता है परन्तु मुहूर्त का खेल देखे कोई विशेष कारण बताकर उनका ट्रांसफर एक वर्ष के अंदर ही हो गया  ।

अतः किसी भी काम, में मुहूर्त चयन बहुत ही मायने रखता है। आप भी महत्वपूर्ण  कार्यो के लिए मुहूर्त का अवश्य ही चयन करे आपका कल्याण होगा।

Muhurt for Service | Job Joining | नौकरी वा पदग्रहण मुहूर्त विचार

नौकरी आरम्भ करने के नियम | Muhurt for Service Joining

सरकारी अर्धसरकारी या प्राइवेट क्षेत्र में नौकरी की शुरुआत ( Joining ) करने के लिए शुभ मुहूर्त चयन करने के लिए अधोलिखित नियम का अवश्य ही ध्यान रखना चाहिए।

  1. वार शुद्धि विचार :-     मंगलवार को छोड़कर शेष सभी दिन नौकरी ज्वाइन करने के लिए अच्छा माना जाता है। सेना तथा पुलिस की नौकरी में मंगलवार भी शुभ माना गया है।
  2. तिथि शुद्धि विचार :-  प्रतिपदा, रिक्ता ( 4,1 तथा 14 ) अमावस्या, षष्ठी एवं अष्टमी को छोड़कर शेष तिथियां ग्राह्य है
  3. नक्षत्र शुद्धि विचार :-  अश्विनी, रोहिणी, मृगशीर्ष, पुष्य, हस्त तीनों उत्तरा, चित्रा, अनुराधा, श्रवण एवं रेवती नक्षत्र शुभ है इस नक्षत्र में ही नौकरी ज्वाइन करना चाहिए।
  4. योग शुद्धि विचार :-  प्रीति, आयुष्मान, सोभाग्य, शोभन, धृति एवं सुकर्मा योग में नौकरी ज्वाइन करनी चाहिए।
  5. करण शुद्धि विचार :-  विष्टी, नाग एवं शकुनी को छोड़कर शेष करण ग्रहण करने योग्य है
  6. काल शुद्धि विचार :-  अमावस्या, संक्रांति, श्राद्ध पक्ष एवं होलिकाष्टक में नौकरी ज्वाइन नहीं करनी चाहिए।
  7. लग्न शुद्धि विचार :-  चर लग्न  (मेष, कर्क, तुला एवं मकर)  को छोड़कर  शेष लग्न में नौकरी ज्वाइन करना चाहिएइसमें भी स्थिर लग्न में ज्वाइन करे तो अच्छा रहेगा।  लग्न से षष्ट एवं अष्टम भाव शुद्ध होना चाहिए इस भाव में कोई अशुभ ग्रह नहीं होना चाहिए।
  8. चंद्र शुद्धि विचार :- नौकरी ज्वाइन करते समय चंद्र शुद्धि का अवश्य ही विचार कर लेना चाहिए। इसके लिए जन्म राशि से 4,6,8 और 12 वे स्थान में चन्द्रमा नहीं होना चाहिए।

 नौकरी ज्वाइन करते समय उपर्युक्त पंचांग शुद्धि का विचार करने पर आपकी नौकरी सही तरीके से चलती रहेगी ऐसा समझना चाहिए।

 
Tagged with 

  • Shubh Muhurt for School College Admission – विद्यारम्भ मुहूर्त
  • Oath Ceremony Muhurt Method | शपथ ग्रहण मुहुर्त विधि
  • Rakshabandhan Muhurt | रक्षाबंधन राखी मुहूर्त | 2016
  •    

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *